शराब और नशीली दवाओं के दुरुपयोग और समाज पर इसके प्रभाव

नसा एक घातक बीमारी है या यों कहिये नसा एक आदत है ये आदत बुरी भी हो सकती है और अच्छी भी, अच्छी आदत जैसे किसी को पड़ने का नसा है , किसी को खेलने का नसा है , किसी को सिंगर बनना है, किसी को प्लांटेशन का शौक है ,कोई दोसरो की हेल्प करना चाहता है वही दूसरी ओर बुरी आदत जैसे गुटका, तम्बाकू ,सिगरेट, शराब का नशा करने वाले सोयम तो परेशान रहते है साथ में उनके परिवार वाले और आस पास समाज के लोग